PNB ग्राहकों के लिए अच्छी खबर, आपके लिए जानना बेहद जरूरी

PNB ग्राहकों के लिए अच्छी खबर, आपके लिए जानना बेहद जरूरी

सरकारी बैंक पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) ने पिछले दिनों होमलोन और कार लोन पर ब्याज दर घटाने के बाद अपने ग्राहकों को एक और खुशखबरी दी है. बैंक ने नए बदलाव के तहत थोक जमा पर ब्याज दरों में 1.35 फीसदी तक की वृद्धि की है. आपको बता दें कि थोक जमा की श्रेणी में एक करोड़ या उससे अधिक की राशि की जमाएं आती हैं. बैंक की तरफ से एक बयान में कहा कि संशोधन के बाद 46-179 दिनों की सावधि जमा पर ब्याज दर 1.35 प्रतिशत बढ़कर 6.25 प्रतिशत हो गई है. नई ब्याज दर को तत्काल प्रभाव से लागू कर दिया गया है.

सरकारी बैंक पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) ने पिछले दिनों होमलोन और कार लोन पर ब्याज दर घटाने के बाद अपने ग्राहकों को एक और खुशखबरी दी है. बैंक ने नए बदलाव के तहत थोक जमा पर ब्याज दरों में 1.35 फीसदी तक की वृद्धि की है. आपको बता दें कि थोक जमा की श्रेणी में एक करोड़ या उससे अधिक की राशि की जमाएं आती हैं. बैंक की तरफ से एक बयान में कहा कि संशोधन के बाद 46-179 दिनों की सावधि जमा पर ब्याज दर 1.35 प्रतिशत बढ़कर 6.25 प्रतिशत हो गई है. नई ब्याज दर को तत्काल प्रभाव से लागू कर दिया गया है.

लोन महंगा होने की उम्मीद
इसी तरह 180 दिन से एक साल से कम की सावधि जमा पर ब्याज दर बढ़ाकर 6.25 प्रतिशत की गई है. पहले यह दर 5 प्रतिशत थी. एक साल और उससे अधिक की परिपक्वता अवधि पर ब्याज दर 0.75 प्रतिशत बढ़ायी गई है. इसके बाद लोन के महंगे होने की उम्मीद जताई जा रही है. गौरतलब है कि इससे पहले देश के सबसे बड़े बैंक SBI ने एकमुश्त बड़ी जमाराशि पर ब्याज दरों में 50 से 140 आधार अंकों यानी करीब 0.5 से 1.4 फीसदी तक की वृद्धि की है.

अन्य बैंक भी उठा सकते हैं ऐसा कदम
एसबीआई ने 1 करोड़ रुपये से ऊपर की एकमुश्त जमा पर ब्याज दर को 1.4 फीसदी तक बढ़ाया है. एसबीआई और पीएनबी की तरफ से उठाए गए इस कदम से आने वाले समय में भी अन्य बैंक ऐसा कदम उठा सकते हैं. ऐसे में बैंकों में पैसा एकमुश्त धन जमा कराना तो अब ज्यादा फायदेमंद हो गया है लेकिन आने वाले समय में लोन पर ब्याद दरों में बढ़ोतरी की उम्मीद की जा रही है. क्योंकि बैंक अगर ऊंची दर पर आपसे पैसा लेंगे तो लोन के रूप में देने के बदले आपसे ऊंची ब्याज दर भी वसूलेंगे.

जरूरतों के लिए नकदी की कमी
SBI ने तरलता की टाइट स्थिति को देखते हुए ऐसा किया है. तरलता से मतलब है बैंक के पास लोन की मांग और अन्य जरूरतों के लिए नकदी की कमी है. जमा पर ब्याज दर बढ़ाने से लोग बैंकों में ज्यादा धन जमा कराने को लेकर आकर्षित होंगे. पिछले दो माह में यह दूसरा मौका है जब SBI ने दूसरी बार एकमुश्त जमाराशि यानी एक करोड़ रुपये से अधिक के जमा पर ब्याद दर बढ़ाई है.

इस बदलाव के बाद एसबीआई ने एक वर्ष से 455 दिन तक की जमा पर ब्याज दर को बढ़ाकर 6.25 फीसदी कर दिया है जो पहले 5.25 फीसदी थी. इसी तरह दो वर्ष से 10 वर्ष तक की जमा पर ब्याज दर को 5.25 फीसदी से बढ़ाकर छह प्रतिशत कर दिया है. इसके अलावा 180 दिन से 210 दिन की जमा पर ब्याज दर 4.85 फीसदी से बढ़ाकर 6.25 फीसदी कर दी गई है.

Leave a Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

− 3 = 1


0 Comments